GUNAUR: 7 दिन संघर्ष के बाद शुभी जिंदगी की जंग हार गई | MP NEWS

गुनौर। जिसकी किलकारियों से घर आंगन गूंजता था, परिवार को जिसके स्कूल से लौटने का बेसब्री से इंतजार रहता था अब वह फूलों की कली जैसी 5 वर्षीय मासूम शुभी दुनियां में नहीं रही, पन्ना के पत्रकार स्वराज एक्सप्रेस न्यूज चैनल के संवाददाता गणेश विश्वकर्मा की 5 वर्षीय पुत्री शुभी जो किशोरगंज के डायमंड पब्लिक स्कूल में केजी-2 में पढ़ती थी, बीते दिनों परिवार के साथ रिश्तेदारी में गांव डोलीटाई खेड़ा जिला दमोह गई हुई थी, जहां से यह परिवार 25 जनवरी 2019 को वापस पन्ना आने की तैयारी मे था, तभी एक सिरफिरे बाइक सवार ने लापरवाही पूर्वक तेज गति से बाइक चलाते हुए मासूम शुभी को जोरदार टक्कर मार दी जिससे वह उछलकर लगभग 20 फिट दूर जा गिरी और बेहोश हो गई। 

बेहोशी की हालत में हटा चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां से दमोह के लिए रिफर कर दिया गया जहां के डॉक्टरों ने मासूम की गंभीर हालत को देखते हुए जबलपुर मेडिकल रिफर कर दिया, जबलपुर मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक भी काफी प्रयासों के बाद घायल बच्ची को होश में लाने में कामयाब नहीं हो सके, जिंदगी और मौत के बीच लगभग 7 दिनों तक संघर्ष करने के बाद शुभी 1 फरवरी 2019 को सुबह लगभग 11ः30 बजे जिंदगी से जंग हार गई। 

यह खबर सुनते ही परिवार में दुखों का पहाड़ टूट पड़ा मां का तो काफी बुरा हाल है, जानकरी के  अनुसार गणेश की दो पुत्रियां थी जिसमें शुभी बड़ी थी छोटी बेटी अभी ढाई वर्ष की है। जैसे ही यह दुखद खबर पन्ना जिले के पत्रकारों को लगी समस्त पत्रकारों में भी गम का माहौल छा गया परिवार के सदस्यों ने बताया कि जबलपुर मेडिकल कॉलेज से वह सीधे अपने गृह ग्राम मड़ैयन ग्राम पंचायत इटवांकला जाएंगे जहां 2 फरवरी 2019 को अंतिम संस्कार किया जाएगा, इस दुख की घड़ी में पत्रकार गणेश के मित्र जनों एवं जिले के तमाम पत्रकार साथियों ने ईश्वर से मासूम शुभी की मृत आत्मा को शांति व परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति देने की प्रार्थना की है।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter