Business

header ads

मप्र में यूनिवर्सिटी के छात्रों को नहीं मिलेगा प्रमोशन, हर विद्यार्थी के लिए अनिवार्य है एग्जाम / MP NEWS

इंदौर। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त यूनिवर्सिटी (इग्नू) की टर्म एंड परीक्षा- 2020 में संस्थान के सभी विद्यार्थियों को शामिल होना पड़ेगा। इग्नू ने सितंबर व दिसंबर 2020 में होने वाली टर्म एंड एग्जाम (टीईई) को सभी कोर्सेस के हर विद्यार्थी के लिए अनिवार्य कर दिया है। इसका नोटिस भी इग्नू ने वेबसाइट पर जारी किया है।   

इग्नू के इंदौर समन्वयक डॉ. प्रदीप शर्मा ने बताया कि यूजीसी के दिशानिर्देशों अनुसार फाइनल ईयर और सेमेस्टर के विद्यार्थी सितंबर में होने वाली लिखित परीक्षा में शामिल होंगे। जबकि अन्य विद्यार्थियों के लिए दिसंबर 2020 में परीक्षा होगी। सितंबर 2020 में होने वाले इग्नू टीईई के लिए आवेदन फॉर्म भरने की अंतिम तारीख 31 जुलाई है। फॉर्म ऑनलाइन भरे जाने हैं। प्रैक्टिकल परीक्षाओं की जानकारी रीजनल सेंटर्स से मिलेगी।

इग्नू के एकेडमिक काउंसिल ने इस संबंध में फैसला लिया है। इसमें सभी ईयर व सेमेस्टर के विद्यार्थियों को अगले ईयर या सेमेस्टर में प्रमोशन पाने के लिए परीक्षा देनी ही होगी। अधिकारियों का कहना है कि कुछ तकनीकी कारणों से यूनिवर्सिटी अपने विद्यार्थियों को बिना परीक्षा प्रमोशन नहीं दे सकती। इसके पहले तक इंटरमीडिएट सेमेस्टर के फर्स्ट और सेकंड ईयर में पढ़ने वाले लाखों विद्यार्थियों को यह उम्मीद थी कि उन्हें बिना परीक्षा प्रमोट कर दिया जाएगा। 

अधिकारियों का कहना है कि डिस्टेंस लर्निंग यूनिवर्सिटी होने के कारण कई ऐसी तकनीकी कारण है जिससे परीक्षा रद्द करना उचित नहीं है। यूनिवर्सिटी द्वारा दी जाने वाली डिग्रियों की विश्वसनियता सुनिश्चित करना जरूरी है। इग्नू से पढ़ाई करने वाले कई विद्यार्थी नौकरीपेशा है। तीन साल की डिग्री को पूरा करने के लिए छह साल तक का समय दिया जाता है। ऐसे में परीक्षा रद्द करके गुणवत्ता से समझौता करना विद्यार्थियों के लिए भी उचित नहीं होगा।

24 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ताश के पत्तों में चौथे राजा की मूछें क्यों नहीं होती
OMG! कोरोना पॉजिटिव मरीज की स्वस्थ होते ही मौत
केंद्रीय विद्यालयों में एडमिशन की सूचना
ग्वालियर में बिजली बिल के लिए NGB प्रणाली शुरु
मध्य प्रदेश के 25 जिलों में आंधी और बारिश की संभावना
भारतीय सिक्कों का कूटकरण क्या होता है, कितना गंभीर अपराध है
अतिथि शिक्षकों को पहली कैबिनेट बैठक में ही नियमित कर देंगे: कमलनाथ
OMG! एक पक्षी जो बिना पंख फड़फड़ाए 5 घंटे, 170 किलोमीटर उड़ता है
मध्य प्रदेश कोरोना: 12 जिलों में स्थिति गंभीर, 50 जिले संक्रमित
मिस्र देश की रानियां कभी बूढ़ी क्यों नहीं होती थी, क्या उनके पास कोई फार्मूला था
मध्यप्रदेश: सेल्फी के प्यार में पागल लड़कियां बाढ़़ में फंस गईं वीडियो देखें


from Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) https://ift.tt/2WU1X5l