Business

header ads

बैतूल के जज एवं उनके बड़े बेटे की पॉइजनिंग से मौत, कटनी के रहने वाले थे त्रिपाठी / MP NEWS

भोपाल। मध्यप्रदेश के बैतूल जिले में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (एडीजे) श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी और उनके बड़े बेटे की मृत्यु हो गई। पुलिस को संदेह के उनके खाने में पॉइजनिंग हुई है। पुलिस ने एडीए के आवास को सील कर दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। एडीजे श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी मध्य प्रदेश के कटनी जिले के रहने वाले थे। उनका अंतिम संस्कार कटनी में किया जाएगा।

खाना खाने के बाद सभी की तबीयत खराब हो गई थी

बताया जा रहा है कि चार-पांच दिन पहले ADJ और उनके दोनों बेटों की तबीयत अचानक खराब हो गई है। तीनों ने घर पर ही भोजन किया था। डॉक्टर ने बताया कि तीनों फूड प्वाइजनिंग का शिकार हुए हैं। घर पर ही प्राथमिक उपचार के बाद छोटे बेटे की तबीयत ठीक हो गई परंतु एडीशनल डिस्ट्रिक्ट जज श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी एवं उनके बड़े बेटे अभियान राज त्रिपाठी की हालत बिगड़ती चली गई। इसके बाद दोनों को शनिवार को नागपुर के एलेक्सिस अस्पताल ले जाया जा रहा था। रास्ते में बड़े बेटे की मौत हो गई और अस्पताल में एडीशनल डिस्ट्रिक्ट जज श्री महेंद्र कुमार त्रिपाठी की भी मौत हो गई।

पहले पाढ़र में भर्ती कराया, हालत बिगड़ी तो नागपुर रैफर

एडिशनल एसपी श्रद्धा जोशी के मुताबिक, फूड पाॅइजनिंग के बाद एडीजे और उनके बेटे को 23 जुलाई को पाढ़र अस्पताल में भर्ती कराया गया था। यहां हालत बिगड़ने पर नागपुर रैफर किया था। एएसपी के मुताबिक, परिवार ने 20 जुलाई की रात में जो भोजन किया था, उसके बाद हालत बिगड़ी।

पुलिस को संदेह चपाती में गड़बड़ थी, पत्नी ने चपाती नहीं खाई थी

पुलिस को संदेह है कि मजिस्ट्रेट परिवार ने जो चपातियां खाई थीं, उससे फूड पाॅइजनिंग हुई। जबकि पत्नी ने चपाती नहीं खाई थी। उन्होंने चावल खाया था। जिसके कारण वे पाॅइजनिंग का शिकार नहीं हुई। पुलिस मामले में घर में रखे आटे की सैंपलिंग करेगी। बिसरा भी जांच के लिए भेजा जाएगा। इधर, पाढ़र हॉस्पिटल प्रबंधन ने भी बताया कि 23 जुलाई को जब पिता-पुत्र को अस्पताल लाया गया था, तब हालत गंभीर थी।

26 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ग्वालियर में लड़की ने ब्लैकमेलर को मां का ATM और गहने तक दे दिए फिर भी नहीं माना 
मध्य प्रदेश के 38 जिलों में 5 दिन लगातार बारिश की संभावना 
ट्रैक्टर का साइलेंसर ऊपर की ओर क्यों होता है, कार की तरह पीछे, ट्रक की तरह साइड में क्यों नहीं 
ग्वालियर की सीमाएं सील, डॉक्टर सहित 59 कोरोना पॉजिटिव 
भोपाल में एक्टर की लेट नाइट पार्टी में पुलिस का छापा, 26 लड़के 7 लड़कियां गिरफ्तार 
जानिए, रत्ती में ऐसा क्या है जो हीरे-जवाहरात के लिए डिजिटल तराजु के बजाए उस पर भरोसा करते हैं 
IGNOU के सभी कोर्सेज के लिए TEE अनिवार्य, नोटिफिकेशन जारी 
दुनिया का पहला पिगी बैंक कहां बना, क्या सूअर बचत का प्रतीक होता है 
मध्य प्रदेश के 25 जिलों में आंधी और बारिश की संभावना
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सरकारी अस्पताल में भर्ती क्यों नहीं हुए, शासन ने बताया 
सिंधिया समर्थक उप चुनाव प्रत्याशी कोरोना पॉजिटिव 
सीएम शिवराज सिंह की अनुपस्थिति में 4 मंत्री मध्यप्रदेश सरकार चलाएंगे 
AIRTEL 52.6 लाख और VODAFONE-IDEA को 45.1 लाख यूजर्स का घाटा, JIO मुनाफे में
मध्य प्रदेश कोरोना: पॉजिटिविटी रेट आज भी 5%, हालात बेहद गंभीर 
मिस्र देश की रानियां कभी बूढ़ी क्यों नहीं होती थी, क्या उनके पास कोई फार्मूला था
भारत में फिर से लॉकडाउन या अनलॉक 3.0 की राहत, फैसला 27 जुलाई को 


from Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) https://ift.tt/305cwop