PANNA: किसान ऋण माफी के कार्यक्रम में अव्यवस्थाओं को लेकर विधायक हुए नाराज, 24 घंटे के अंदर गुनौर CEO का हुआ तबादला

संदीप विश्वकर्मा पन्ना/गुनौर -: 15 वर्षों से बहुचर्चित भ्रष्टाचार में लिफ्ट जनपद पंचायत गुनौर के आला अधिकारियों एवं भाजपा के कुशासन में जनप्रतिनिधियों की नाफरमानी करने के आदी हो चुके कर्मचारी अधिकारी इतने बेलगाम हो गए थे की जनता जनार्दन से लेकर के जनप्रतिनिधियों तक का आदेश की नाफरमानी करने में मदमस्त कार्यप्रणाली अपनाए जा कर शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं में जमकर पलीता लगाते रहे और अपनी मनमानी उतारू रहे मगर पूर्व सरकारों ने लापरवाह नाफरमान कर्मचारियों लगाम का चाबुक नहीं चलाया जिससे वह दबंग की भूमिका में कर्मचारी आदर्श आचरण संहिता को ही भूल गए जिसका खामियाजा शिवराज सरकार का पतन इस विधानसभा से ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश से होता दिखाई दिया मगर प्रदेश की नई कमलनाथ सरकार के आते ही और पन्ना जिले की एकमात्र  विधायक जिन्हें जनता की पूछ परख एवं जन कल्याणकारी योजनाओं को संचालित कराने का अच्छा खासा तजुर्बा है मगर नाफरमान अधिकारियों ने अपनी लापरवाही की वानगी उस समय दी जब किसान ऋण माफी योजना के पंडाल में अतिथियों एवं माननीयों से लेकर जनता जनार्दन तक को किसी प्रकार की खाने पीने सहित बैठने की व्यवस्था ना कर पाने वाले अधिकारियों कर्मचारियों को जनता के कोपभाजन का शिकार होना पड़ा और तो और नाराज भूखी प्यासी जनता शेर की भांति दौड़ते हुए क्षेत्रीय विधायक की गाड़ी को ही घेर लिया था 

कुछ महिलाओं ने विधायक से चिल्लाते हुए कहा कि इस जनपद पंचायत कि अधिकारी को यहां से हटाओ इनके कार्यकाल में जमकर भ्रष्टाचार एवं सरकारी धन की बर्बादी कागजी कोरम पूर्ति के थैले में सिमट कर रह गई है जिससे विधायक ने जनता की नाराजगी को देखते हुए मौके पर ही कह दिया था कि इस प्रकार के लापरवाही एवं जनता को भटकाने वाले अधिकारी कर्मचारी मेरी विधानसभा में नहीं रह पाएंगे उन्हें तत्काल हटवा दूंगा जिसकी परिणति आज जनपद पंचायत गुनौर की मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री सिखा भलावी का तबादला के रूप में गुनौर वासियों को देखने को मिली। 

अंततः गुनौर विधानसभा क्षेत्र की जनता ने विधायक के द्वारा बीते 2 सप्ताह के अंदर जिले से लेकर जिला पंचायत सीईओ पुलिस अधीक्षक पन्ना एवं जनपद पंचायत सीईओ गुनौर को हटाए जाकर क्षेत्रीय जनता को यह विश्वास हो गया है कि जनता एवं सरकारी आदेशों की अनदेखी, नाफरमानी करने वाले अधिकारी कर्मचारी विधायक शिवदयाल बागरी के कार्यकाल में नहीं रह पाएंगे ।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter