DHAR: टंट्या भील का 177 वा जन्मदिवस मनाया, टंटयाभील चोक पर झंडा फहराया

बाघ/ धार/ चन्द्रपाल अजनारे की रिपोर्ट। आज जहां पूरे देश में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पूरे जोर शोर से मनाया गया वही धार जिले के बाघ नगर में युवाओं ने गणतंत्र दिवस अपने अगल अंदाज में मनाया। बाघ पंचायत के ग्राम पाड़लिया के टंट्या भील चोक पर स्थित टंट्या भील प्रतिमा को पुष्पमाला पहना कर व् संविधान की पूजा कर मनाया गया। 

इंजी. चंद्रपाल सिंह उर्फ चन्दु,रिसावला  ने बताया की आज ही के दिन हमारे भारत देश में संविधान लागु हुआ था और आज ही के दिन देश में अग्रेजो की नाक में दम करने वाले व् देश के राबिनहुड कहे जाने वाले महान क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी वीर टंट्या भील का जन्म हुआ था।। टंट्या भील को देश में टंट्या मामा से जाना जाता हे। देश की आजादी में उनका बड़ा योगदान रहा हे जिसे देश कभी नही भूलेगा। और उन्ही की याद में बाघ के युवा आज 26 जनवरी गणतंत्र दिवस को उनके जन्मोत्सव के रूप में भी मनाते हे। टंट्या भील प्रतिमा और संविधान पुस्तक पूजन के बाद प्रसादी भी बाटी गई। चंद्रपाल ने बताया की इस कार्यक्रम में बाघ, कुक्षी, जोबट, डेहरी व् कई गाँव के ग्रामीण पधारे और वीर टंट्या की उपलभधीयो पर चर्चा की।

कार्यक्रम में बाघ जनपद पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि भेरूसिंह अनारे, जयस मिडिया प्रभारी दुष्यंत रावत, धनसिंह सोलंकी, समृत गहलोत के साथ अन्य युवा उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन इंजी. चंद्रलाप सिंह अजनारिया उर्फ़ चंदू रिसवाला के द्वारा किया गया और जानकारी धार जयस प्रवक्ता राजेंद्र चौहान बाघ ने दी।।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter