मंदसौर में दुष्कर्म की घटना के बाद NEEMUCH POLICE का बच्चो से संवाद

नीमच / कमलेश सारड़ा। मंदसौर में मासूम के साथ दुष्कर्म की घटना के बाद नीमच पुलिस प्रशासन ने बच्चों में जागृति पैदा करने के उद्देश्य से बच्चों के बीच जाकर संवाद किया। मंदसौर में घटित घटना के दौरान देखने में आया कि एक निजी विद्यालय की 7 साल की मासूम को दो युवकों ने मिठाई एवं चॉकलेट देने के बहाने अपने साथ ले जा कर दुष्कृत्य करने का घिनौना कार्य किया। जिसके बाद से प्रशासन ही नहीं हर आम आदमी परिवार डरा सहमा हुआ है। बच्चों में जागृति लाने के उद्देश्य से बुधवार को जीरन के हायर सेकेंडरी विद्यालय परिसर में जीरन की सभी शासकीय अशासकीय स्कूली छात्राओं को एकत्रित कर नीमच पुलिस अधीक्षक तुषारकांत विद्यार्थी ने उनसे से संवाद किया। इस अवसर पर अभिभाषक लक्ष्मण सिंह भाटी, नगर परिषद अध्यक्ष सीमा राजोरा, शासकीय महाविद्यालय जीरन के प्राचार्य श्री जाट, बालक हायर सेकेंडरी के प्राचार्य श्री मांगरिया, कन्या हायर सेकेंडरी के प्राचार्य श्री बीएल जावरिया एवं  स्कूली बच्चों की  उपस्थिति में संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

जिसमें एस पी तुषारकांत विद्यार्थी बच्चों से चर्चा करते हुए कहा कि जो भी बच्चे सोशल मीडिया व्हाट्सएप्प या फेसबुक का यूज़ करते हैं, उनका यूज करते हुए पूर्णतया सावधानी बरतनी चाहिए। किसी भी प्रकार की गलत पोस्ट यदि आपको कोई भेजता है तो आपको उसे अन्य को फारवर्ड करने के बजाए तुरंत अपने परिजनों के बीच शिकायत करना चाहिए। सोशल साइट्स का उपयोग केवल अपनी शैक्षिक जानकारी एवं आवश्यकता के अनुरूप ही करना है। छोटे बच्चों को ध्यान रखना है यदि कोई भी अपरिचित व्यक्ति आपके साथ कोई गलत व्यवहार करें या आपको मिठाई चॉकलेट या पैसे का लालच देकर आपको साथ चलने का कहे तो उसका विरोध करें, आवाज लगाएं उनके साथ कतई ना जाए। 

स्कूल प्रशासन को भी ध्यान देना चाहिए यदि जो बच्चे स्कूल वाहन से नहीं आते हैं तो उनके परिजनों के आने तक उन्हें अपने स्कूल परिसर में ही रोके रखें। परिजनों का भी दायित्व है कि वह भी अपने बच्चों को लाने ले जाने की व्यवस्था देखें। बच्चों के बीच संवाद करते हुए एसपी विद्यार्थी ने कहा यदि आपकी स्कूल के आस-पास कुछ लड़के झुंड बनाकर खड़े होते हैं या रास्ते में आते जाते आपके साथ किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार करते हैं तो आप तुरंत पुलिस हेल्पलाइन नंबर डायल 100 या महिला हेल्पलाइन 1090 पर कॉल कर अपनी समस्या बता सकते हैं। पुलिस प्रशासन द्वारा इस मौके पर स्कूली छात्रों को एक परिपत्र देकर कहां की आप अपना फीडबैक अपनी बात लिखकर हमें प्रेषित करें किसी भी प्रकार की कोई समस्या हो तो आप पुलिस से संपर्क कर सकते हैं।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter