शिक्षा विभाग का ब्लॉक स्तरीय परिवेदना निवारण शिविर

JABALPUR: शुक्रवार को प्रातः 10:30 से 5:30 तक विकास खंड मुख्यालय के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय करेली और चावरपाठा में परिवेदना निवारण शिविर आयोजित किया गया है जिसमें समस्त सहायक अध्यापक अध्यापक वरिष्ठ अध्यापक सहायक शिक्षक शिक्षक व्याख्याता प्राचार्य लिपिक एवं भृत्य अपनी लंबित समस्या आवेदन में लिखकर प्रस्तुत करेंगे समस्त संकुल प्राचार्य की उपस्थिति सौ प्रतिशत अनिवार्य है दिनांक 18 मई 18 को प्राप्त आवेदनों के 4 बंच बनाए जाने हैं विकास खंड स्तर जिला स्तर संभागीय स्तर एवं आयुक्त के स्तर से निराकरण होने वाली समस्याओं को पृथक पृथक करना है एवं उसी दिन कंप्यूटर पोर्टल पर प्रविष्टि करना है ,विशेष सॉफ्टवेयर तैयार किए गए हैं जिससे शिकायत क्रमांक जनरेट होगा एवं 19 मई 2018 को शिकायत निराकरण करने वाले सक्षम अधिकारी को शिकायत प्रेषित करना है। मप्र शिक्षक संघ का कहना है कि समस्त संकुल प्राचार्य का दायित्व है कि वह शिविर में उपस्थित रहकर अपने संकुल के समस्त शिक्षकों एवं कर्मचारियों के जिनके कोई वित्तीय या अन्य प्रकरण लंबित हों शिविर में ही सुलझाना सुनिश्चित करें।

हर जिले में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत इस शिविर के नोडल अधिकारी होंगे ठीक चुनाव की तरह कंट्रोल रूम जिला कार्यालय में निर्मित किया गया है एवं दिनांक 18 मई को प्रत्येक घंटे पर रिपोर्टिंग करना है जो कि सीधे भोपाल प्रेषित की जावेगी जिला पंचायत सी ई ओ को दो विकासखंड, जिला शिक्षा अधिकारी को दो विकासखंड, डीपीसी एवं एडीपीसी को एक विकासखंड की मॉनिटरिंग का दायित्व सौंपा गया है संयुक्त संचालक को किसी भी एक जिले के दो विकासखंड की मॉनिटरिंग का दायित्व सौंपा गया है।
 
मप्र शिक्षक संघ नरसिंहपुर के जिला सचिव सत्यप्रकाश त्यागी ने सभी शिक्षकों और अध्यापकों को अपनी वर्षो से लंबित मामलों जैसे वेतन समय से न होना ,क्रमोन्नति प्रकरण में देरी,एरियर्स का समय पर भुगतान न होना,सेवा पुस्तिकाओं को अद्यतन करना, पोर्टल पर सही एंट्री, अंशदायी पेंशन योजना के मामले, नियुक्ति तिथि और निश्चित वेतनमान पर पूर्ण वेतनमान प्रदान करने के मामले एवं अन्य लंबित प्रकरणों को निर्धारित समय पर ब्लॉक में जाकर रखने को कहा है ।

Post a Comment

0 Comments