आजाद अध्यापक संघ की प्रांतीय समीक्षा बैठक जबलपुर में संपन्न हुई - madhya pradesh news

आजाद अध्यापक शिक्षक संघ मंडला जिला अध्यक्ष संतोष सोनी ने बताया कि प्रांतीय अध्यक्ष भरत पटेल की अगुवाई में बैठक जबलपुर में आयोजित की गई । बैठक में अनेक जिलों से आए प्रांतीय पदाधिकारी एवं जिला अध्यक्ष ने पुरानी पेंशन की मांग को लेकर सरकार के रुख की समीक्षा की। जिलाध्यक्ष संतोष सोनी ने बताया कि पुरानी पेंशन की मांग को लेकर 25 दिसंबर भोपाल में पहुंच रहे लाखों अध्यापकों की भावनाओं से सरकार ने खिलवाड़ किया है। प्रांतीय नेतृत्व ने संविधान के दायरे में रहकर कार्यक्रमों का आयोजन किया था, संगठन ने मनोकामना यात्रा अमरकंटक से शुरू कर प्रदेशभर के विभिन्न जिलों में संभागी सम्मेलन आयोजित कर सरकार में बैठे मंत्री विधायकों एवं गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में सरकार के समक्ष अपनी अर्जी लगाई थी कि सभी प्रदेश भर के शिक्षक 25 दिसंबर को भोपाल में इस यात्रा का सम्मेलन के रूप में समापन करेंगे । जिसमें माननीय मुख्यमंत्री जी को भी आमंत्रित किया गया था। 

संगठन ने इसके लिए बकायदा परमिशन भी हासिल की थी, सरकार ने अपनी शक्ति का प्रयोग करते हुए सभी शिक्षकों को भोपाल आने से रोका एवं अपनी बात कहने का कोई अवसर प्रदान नहीं किया जिससे प्रदेश भर के कर्मचारी आक्रोशित हैं। इन कर्मचारियों ने अपना दुख बयान करते हुए बताया कि हम अपने मुखिया से यदि समस्या नहीं बताएंगे तो किसे बताएंगे?इस बात का जवाब सरकार को देना चाहिए ।कार्यक्रम को सरकार ने षडयंत्र पूर्वक रोका। शिक्षकों का आक्रोश है कि जब सरकार को पूर्व से ज्ञात था तो सरकार ने 24 दिसंबर को ही एक्शन क्यों लिया? सरकार को इसके पूर्व भी सूचना जारी करके अवगत करा सकती थी। प्रांतीय अध्यक्ष भरत पटेल ने शिक्षकों के प्रति सरकार के रवैये को लेकर असंतोष व्यक्त किया, उन्होंने कहा की शिक्षक अपने मृत हो गए शिक्षकों के आश्रित परिवारों के लिए पेंशन की मांग करने के लिए भोपाल जा रहे थे। जो महिलाएं विधवा हो गई है जिनके बच्चे अनाथ हो गए हैं उनके आश्रय के लिए सरकार से गुहार लगाने के लिए भोपाल आ रहे थे, हमारे कुछ कर्मचारी जो अल्प सेवाकाल के बाद सेवानिवृत्त हो चुके हैं उनके परिवार के भरण-पोषण के लिए भोपाल आ रहे थे । जिनकी संख्या मध्यप्रदेश में 200 से 300 की है इन्हीं के लिए पेंशन की मांग सरकार के समक्ष रखी जानी थी । 

प्रांतीय अध्यक्ष भरत पटेल ने बोला कि हम कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखकर राष्ट्रहित में मनोकामना यात्रा को स्थगित किए हैं, किंतु हमारी मनोकामना यात्रा अभी समाप्त नहीं हुई है । हम पुनः 9 जनवरी को चित्रकूट धाम में उपस्थित होकर कामतानाथ जी की परिक्रमा करके आशीर्वाद प्राप्त कर अपनी रणनीति का खुलासा करेंगे।बैठक में मंडला जिले से जिलाध्यक्ष संतोष सोनी मोहगांव ब्लॉक अध्यक्ष जोध सिंह धुर्वे जिला उपाध्यक्ष मायाराम यादव राजेश बाजपेई चंद्रपाल सिंह के साथ प्रांतीय महासचिव गोविंद बिसेन जबलपुर संभागीय अध्यक्ष डीके विश्वकर्मा दीनानाथ चौधरी कटनी जिलाध्यक्ष रमाशंकर तिवारी भोपाल अध्यक्ष मनीष शर्मा रीवा अध्यक्ष चक्रपाणि सिंह सतना अध्यक्ष देवेंद्र पटेल जबलपुर अध्यक्ष शिव चौबे रीवा संभागीय अध्यक्ष रमेश प्रताप सिंह एवं प्रदेश के पदाधिकारी उपस्थित रहे।*
और नया पुराने