Business

header ads

करैरा में कांग्रेस का प्रत्याशी फाइनल, पोहरी को लटकाया: पोहरी में बड़े उलटफेर की संभावना - KARERA NEWS

शिवपुरी। प्रदेश में होने वाले उपचुनावो की तैयारी शुरू हो चुकी हैं। जिले के दो विधानसभा सीट करैरा और पोहरी विधानसभा में उपचुनाव होने हैं,भाजपा के उम्मीदवार लगभग फायनल हैं,लेकिन कांग्रेस को अपने उम्मीदवार को फायनल करना हैं,कल प्रदेश की 15 विधानसभा सीटो पर कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार फायनल किए हैं

जिसमें जिले की करैरा विधानसभा सीट पर बसपा से आयतित होकर आए प्रागीलाल जाटव को अपना उम्मीदवार बनाया हैं वही पोहरी में कांग्रेस के उम्मीदवार की घोषणा नही हुई है,लगता हैं कांग्रेस यह बडा उल्टफेर कर सकती है। 

जैसा कि विदित हैं कि करैरा की तस्वीर अब साफ हो गई हैं,यहां भाजपा से जसवंत जाटव फायनल हैं,बसपा ने राजेन्द्र जाटव के रूप में अपना प्रत्याशी पूर्व से ही फायनल कर दिया था अब कांग्रेस ने भी बसपा छोडकर आए प्रागीलाल जाटव को अपना उम्मीदवार बनाया हैं। 

प्रागीलाल जाटव करैरा विधानसभा से बसपा से तीन बार विधानसभा का चुनाव लड चुके हैं लेकिन तीनो पर वह चुनाव हारे हैं। अपने पिछले 2 बार के चुनाव के प्रर्दशन के कारण कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार बनाया हैं। 

सन 2008 के विधानसभा चुनावा को बसपा के प्रत्याशी के रूप् में 24 हजार वोट हासिल किए थे,2016 के विधानसभा में प्रागीलाल जाटव को पुन:बसपा का प्रत्याशी बनाया गया था और 46 हजार वोट जनता ने प्रागीलाल जाटव के पक्ष में किए। वही पिछले 2018 के आम विधानसभा चुनावो में प्रागीलाल ने फिर हाथी की सवारी की और 41 हजार वोट लेकर दूसरे नंबर पर रहे। 

पिछले चुनाव में जसवंत जाटव ओर प्रागीलाल जाटव का मुकाबला हुआ था। भाजपा तीसरे नंबर पर रही थी। इस बार भी मुकाबला दोनो में ही होगा। लेकिन अब दल बदले हैं नाम वही है। 2018 के चुनाव में कांग्रेस से जसवंत जाटव थे अब वह भाजपा से है। और अब कांग्रेस से प्रागीलाल जाटव हैं जो पहले बसपा थे। 

करैरा विधानसभाा में जाटव वोट अधिक हैं इस कारण इस उपचुनाव में तीनो दलो ने जाटव समाज पर ही दांव लगाया है। बसपा से राजेन्द्र जाटव पूर्व से फायनल हो चुके है। जिले की पोहरी विधानसभा और करैरा विधानसभा ऐसी हैं जहां बसपा चुनाव में अहम रोल अदा करती है। इन दोनो ही विधानसभााओ में चुनाव होने हैं। 

एक आंकडे के अनुसार करैरा विधानसभा में जाटव समाज के 32 हजार वोट,रावत समाज 30 हजार,लोधी 16 हजार,ठाकुर 14 हजार,ब्राहम्मण 15 हजार,यादव 15 हजार,गुर्जर 10 हजार,कुशवाह 15 हजार,बघेल पाल समाज 16 हजार के लगभग है। इस कारण ही तीनो दलो ने जाटव समाज पर ही दाव लगाया हैं। 

वही पोहरी विधानसभा का कांग्रेस ने अपना टिकिट फायनल नही किया है। यहां से ब्राहम्मण नेताओ में हरिबल्लभ शुक्ला,पूर्व मंण्डी अध्यक्ष एनपी शर्मा,धाकड समाज के नेताओ में एडवोकेट लक्ष्मीनारायण धाकड,एडवोकेट विनोद धाकड,इंजीनियर शिशुपाल वर्मा और यादव समाज से रामसिंह यादव  का नाम चर्चा में चल रहा हैंं 

वैसे तो कांग्रेस का टिकिट हरिवल्लभ शुक्ला रूप में फायनल मना जा रहा हैं लेकिन कई विधानसभा चुनावो में हरिबल्लभ शुक्ला का नाम फायनल माना जाता रहा हैं लेनिक टिकिट फायनल होने के समय हरिबल्लभ शुक्ला का नाम कट हो जाता हैं। 

 करैरा के प्रत्याशी का नाम फायनल हो गया हैं,लेकिन पोहरी का नाम फायनल न होने के कारण अब चर्चाओ ने जोर पकड लिया हैं कि कांगेस पिछली बार की तरह इस बार भी कोई चौकाने वाला नाम न ले आए और कोई बडा उल्टफेर ना कर दे। 

बताया जा रहा हैं कि कांग्रेस भाजपा के एक पूर्व विधायक के संपर्क में हैं और यहां वह चौकाने वाले परिणाम दे सकती हैं। इसी कारण कांग्रेस ने अभी तक अपना प्रत्याशी फायनल नही किया हैं। 


from Shivpuri Samachar, Shivpuri News, Shivpuri News Today, shivpuri Video https://ift.tt/3bSnP7w