Business

header ads

इंदौर लॉकडाउन के विरोध में कांग्रेस सड़कों पर उतरी, जबर्दस्त प्रदर्शन / INDORE NEWS

इंदौर। प्रदेश सरकार और प्रशासन के खिलाफ सोमवार को कांग्रेस सड़क पर उतर आई। सरकार पर तानाशाहीपूर्ण रवैए का आरोप लगाते हुए पाटनीपुरा चौराहे पर मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। उनका कहना था कि सरकार और प्रशासन गरीबों, व्यापारियों, ठेलेवालों, बैंडवालों, सिटी बसकर्मियों सहित शहर की जनता पर अत्याचार कर रही है। इन्हीं की लड़ाई के लिए कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन को मजबूर हुए हैं। प्रदर्शन की परमिशन को लेकर कहा कि हमने आवेदन किया था, उन्हें देना हो तो दें, नहीं तो कांग्रेस का हर कार्यकर्ता जेल जाने को तैयार है। वहीं, तहसीलदार ने कहा - यदि प्रदर्शन की परमिशन नहीं होगी तो नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

इंदौर में नेताओं की सभाएं हो रहीं हैं तो बाजार क्यों नहीं खोल रहे: कांग्रेस

सड़क पर उतरे कांग्रेसियों का कहना था कि आजादी के बाद देश में ऐसा दौर किसी ने नहीं देखा। एक ओर तो लोगों के पास राशन नहीं है, स्कूल की फीस के लिए पैसे नहीं हैं, नौकरी नहीं है। वहीं, दूसरी ओर शासन-प्रशासन ठेले नहीं लगाने दे रही, सब्जी मंडी नहीं लगने दे रही, पथ विक्रेताओं को बैठने नहीं दे रही, बैंडवालों का धंधा बंद है। सिटी बस के 1000 से ज्यादा कर्मचारियों को पिछले पांच महीने में सिर्फ दो बार पांच-पांच हजार रुपए दिए गए। एक तरफ तो नेताओं की सभाएं हो रही हैं, शराब की दुकानें खुली हैं। वहीं, दूसरी ओर ये दोहरा रवैया अपनाकर गरीबों को मारना चाह रहे हैं।

कांग्रेसियों ने कहा कि सरकार कुंभकर्णीय नींद में है। उसे ही जगाने के लिए हमें सड़क पर उतरना पड़ा है। काेरोना को देखते हुए हम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। मास्क, सैनिटाइजर मंगवाने के साथ ही हम कार्यकर्ताओं की थर्मल स्क्रीनिंग भी कर रहे हैं। 

27 जुलाई को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार

ग्वालियर में लड़की ने ब्लैकमेलर को मां का ATM और गहने तक दे दिए फिर भी नहीं माना 
मध्य प्रदेश के 38 जिलों में 5 दिन लगातार बारिश की संभावना 
ट्रैक्टर का साइलेंसर ऊपर की ओर क्यों होता है, कार की तरह पीछे, ट्रक की तरह साइड में क्यों नहीं 
जानिए, रत्ती में ऐसा क्या है जो हीरे-जवाहरात के लिए डिजिटल तराजु के बजाए उस पर भरोसा करते हैं 
दुनिया का पहला पिगी बैंक कहां बना, क्या सूअर बचत का प्रतीक होता है 
AIRTEL 52.6 लाख और VODAFONE-IDEA को 45.1 लाख यूजर्स का घाटा, JIO मुनाफे में
मिस्र देश की रानियां कभी बूढ़ी क्यों नहीं होती थी, क्या उनके पास कोई फार्मूला था


from Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh) https://ift.tt/32X0TS4