Business

header ads

मुख्यमंत्री आपदा प्रबंधन कोष के लिए कर्मचारियों/पेंशनरों से प्राप्त 1.5 लाख से अधिक सहयोग राशि का चेक सौंपा गया

कोरोना वायरस (केविड-19) से विश्व व्यापी महामारी के संकट काल में "मप्र तृतीय वर्ग शास कर्म संघ जिला शाखा नीमच" की मानवीय पहल व अपील पर मुख्यमंत्री आपदा प्रबंधन कोष हेतु जिले के 125 कर्मचारियों एवं पेंशनरों ने "पांच सौ से लेकर पांच हजार रूपये तक" स्वेच्छा से कुल "₹ एक लाख चौपन हजार तीन सौ पचपन" का सहयोग दिया है। 

"मप्र तृतीय वर्ग शास कर्म संघ" के प्रांतीय उपाध्यक्ष व जिला शाखा-नीमच के अध्यक्ष-कन्हैयालाल लक्षकार के नेतृत्व में संरक्षक-बापूलाल रावत, जिला सचिव-विनोद राठौर, अध्यक्ष द्वय ब्लाक व तहसील शाखा-मनासा सुरेश नागदा व राकेश पाटीदार सहित पांच पदाधिकारियों ने एकत्र होकर सामुहिक रूप से प्रशासकीय अनुमति से "मुख्यमंत्री आपदा प्रबंधन कोष मप्र शासन-भोपाल" के नाम से एकाउंट पेयी "चेक क्रमांक-987371; दिनांक 27/04/2020" आज "श्रीमान एस आर सोलंकी, एसडीएम-मनासा"  को कार्यालय में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मास्क लगाकर प्रातः 11:30 बजे सौंपा गया, जो "श्रीमान जितेन्द्रसिंह राजे, डीएम-नीमच"  के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री महोदय मप्र शासन भोपाल को प्रेषित किया जाएगा । 

चेक के साथ 125 साथियों की पारदर्शिता पूर्वक तैयार सूची (जिसमें सात पेंशनर व अठारह महिला कर्मचारी भी शामिल हैं, सभी की सामुहिक भागीदारी से दी गई  राशि उनके नाम के सम्मुख अंकित कर) सौंप कर पावती ली गई है, जिसकी प्रतिलिपि सभी सहयोगी साथियों को उपलब्ध करवाई जाएगी । सूची में शामिल कई कर्मचारियों ने सीधे वेतन से भी पृथक से राशि कटवाई हैं । इस अवसर पर श्री सोलंकी ने रचनात्मक एवं पुनीत कार्य के लिए संगठन एवं मददगार साथियों को धन्यवाद दिया है । 

मप्र तृतीय वर्ग शास कर्म संघ सभी कर्मचारियों से निवेदन करता है कि अपने व परिवार के साथ मानवता की रक्षा के लिए  "शासन-प्रशासन के दिशा-निर्देशों"  को ध्यान में रखते हुए सपरिवार लाॅक डाउन व सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए मास्क पहने, हाथ धोएं व सेनेटराइज का उपयोग करते रहे । संगठन के पदाधिकारियों ने सभी मददगार साथियों का "अविस्मरणीय कोरोना महामारी भीषण त्रासदी से जंग" के समय रचनात्मक एवं महान मानवीय पहल में प्रत्यक्ष आर्थिक सहयोग प्रदान करने पर ह्रदय की अनंत गहराइयों से धन्यवाद ज्ञापित करते हुए आभार प्रकट किया हैं।