Business

header ads

महिला के साथ छेड़छाड़ हुई थी पुलिस ने 155 NCR की कार्यवाही कर दी

हरपालपुर। थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सरसेड में आज दोपहर करीब 2:00 बजे ग्राम सरसेड़ में एक महिला के साथ उसके ही जेठ के द्वारा मारपीट व बुरी नजर से कमरे में घसीट छेड़खानी की कोशिश। महिला के चीखने चिल्लाने के बाद उसकी सास जब कमरे में पहुंची तो उसने बताया कि मेरा बड़ा लड़का मेरी बहू के साथ जबरदस्ती गलत काम करने की कोशिश कर रहा था। मेरे विरोध करने पर उसने मेरे साथ भी मारपीट की। 

महिला के द्वारा डायल हंड्रेड को फोन लगाकर पुलिस को मौके पर बुलाया फरियादी व आरोपी दोनों को 2 बजकर 30 मिनिट के करीब थाने में लाए। इस मामले को एक घंटा बीत गया था। थाना प्रभारी श्री दिलीप पांडे थाने में स्थित अपने कमरे में ही बनी रहे। फोन पर ही उन्होंने आरोपी को एनसीआर 155 की कार्रवाई करने के आदेश दे दिए। जब मीडिया को इसकी भनक लगी तो मीडिया भी थाने पहुंची महिला के काफी चीखने चिल्लाने के बाद भी उचित कार्रवाई न किए जाने को लेकर महिला काफी क्रोधित थी क्योंकि उसके साथ पहले भी उसके जेठ के द्वारा दो बार मारपीट बाग छेड़खानी हो चुकी थी। 

इस बात को वह थाने में चीख चीख कर मीडिया कर्मियों के सामने कह रही थी। पत्रकारों ने छतरपुर पुलिस अधीक्षक श्रीमान कुमार सौरभ को टीआई के द्वारा कही गई रिकॉर्डिंग और महिला के द्वारा अपनी बात सुनाने का वीडियो जब पुलिस अधीक्षक महोदय को भेजा तो उनके द्वारा कार्रवाई करने का आश्वासन दिया गया।                                         

महिला की एफआईआर लिखने के लिए महिला पुलिस अधिकारी का होना कानूनी तौर पर जरूरी है इसलिए अलीपुरा थाना प्रभारी फरहा खान को आनन-फानन में हरपालपुर आने के आदेश दिए गए जिससे महिला के साथ हुई घटना एफआई आर दर्ज की जा सके। महिला ने अपनी आपबीती सुनाते हुए जो आवेदन लिखवाया था उस आवेदन से नाराज फराह खान अलीपुरा प्रभारी ने आवेदन लिखने वाले को थाने में एक कमरे में बुलाया और कहने लगी ऐसा आवेदन क्यों लिखा है इस आवेदन में परिवर्तन करिए तो आवेदन लिखने वाले शिवम सोनी के द्वारा बताया कि महिला के साथ जो घटना हुई है उसने ही सामने बैठकर आवेदन लिखवाया है जो सही है उसी आवेदन पर कार्रवाई करो तो फराह खान अलीपुरा प्रभारी जो कि एसपी तक शिकायत पहुंचाने से नाराज थी तुरंत भड़क गई और उन्होंने तो शिवम सोनी व उसके साथ खड़े हुए पत्रकारों को मुकदमा दर्द करने की धमकी भी दे डाली। 

पुलिस के इस रवैया से नाराज पत्रकारों ने छतरपुर पुलिस अधीक्षक श्रीमान कुमार सौरभ से दूरभाष पर तुरंत सूचना देते हुए शिकायत की पुलिस अधीक्षक महोदय का कहना था कि महिला के साथ जो घटना घटी हुई है उसके आवेदन पर ही मुकदमा दर्ज किया जाएगा।