पुलवामा में मारे गए जवानों को शहीद का दर्जा देने की मांग को लेकर AAP का उपवास

जयपुर। रविवार को आम आदमी पार्टी राजस्थान ने एमआई रोड़ स्थित शहीद स्मारक पर एक दिन का सांकेतिक सामूहिक उपवास रखा और केंद्र सरकार का ध्यान अर्धसैनिक बलों की त्रासदी की तरफ खिंचा। पार्टी की जारी विज्ञप्ति में कहा गया कि आतंकवादियों से लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए देश अर्धसैनिक बलों के जवान को भी शहीद का दर्जा दिया जाना चाहिए। देश के असली दुश्मन आतंकवादी ही हैं। जिसे अर्ध सैनिक बल के जवान ही लड़ते है। देश की सुरक्षा करते हुए वीरगति को प्राप्त होने वाले जवानों को सरकार शहीद का दर्जा देकर उन्हें सम्मान देने का कार्य करे। पार्टी की दूसरी मांग है कि पुलवामा में शहीद हुए जवानों के सम्मान में एक दिन का राष्ट्रीय शोक रखा जाना चाहिए था जो आज हमले के इतने दिनों बाद भी सरकार ने घोषित नही किया। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामपाल जाट के नेतृत्व करीबन 65 लोगों ने उपवास रखा और सेकड़ो कार्यकर्ताओ ने भाग लिया। 

आम आदमी पार्टी राजस्थान सचिव देवेंद्र शास्त्री ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष रामपाल जाट के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल कल सोमवार को राज्यपाल से मिलकर अर्धसैनिक बलों की मांगों के समर्थन में ज्ञापन भी देंगे।मिडिया प्रभारी अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया कि शहीद स्मारक गवर्मेंट होस्टल पर आयोजित इस एक दिवसीय संकेतिक उपवास में पार्टी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र शास्त्री, रमेश सारस्वत, स्टिवी फ्रांसिस, बाबू खान, मुबारक अली, पुरनीष सरीन, अमित लियो, प्रदीप कटारिया, जयपाल, कुमुद सिंघल, दिलीप शर्मा, इन्द्रसेन, आर एन माथुर, प्रदीप चौधरी, दीपक मिश्रा, अब्दुल सलाम, केशव, राईसा पठान, अंजना शर्मा, रेखा गुलाटी, नीलम साहनी, अली अहमद, राजेश गुर्जर, लक्मन गुर्जर, अक्षय गौतम, अशोक जांगिड़, प्रशांत शर्मा, मृदुल जिंदल, श्याम सिंह, गिरिराज सिंह, महेंद्र सिंह, हनुमान जाट, सावित्री, रितेश खंडेलवाल, अजय कुमार धानका, एस एम ज़ैदी, गिरिराज शर्मा, आदित्य शास्त्री, अभिषेक विजय, राजा कुमार सिंह, महेंद्र सिंह, अंकित सक्सेना, शुभम सिंह, द्वारका प्रसाद, डॉ मैथिली मिश्रा, श्याम लाल, गोविंद संगत, रामावतार जोरवाल, जितेन्द्र गोयल, रेखा गुलाटी, शम्भू लाल मेघवाल, नीलम मेघवाल, भगवान मूलानी, राजवीर मायल, विनोद सेन, देवेंद्र पारीक, अब्दुल सलाम मनिहार, सुनील कुमार गाँधी ने उपवास में भाग लिया।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter