VYAPAM SCAM के आरोपी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी

INDORE: व्यापमं द्वारा आयोजित आरक्षक भर्ती परीक्षा में खुद के नाम पर दूसरे को परीक्षा दिलवाने वाले आरोपित मथुरा निवासी युवक के खिलाफ मंगलवार को सीबीआई ने स्पेशल कोर्ट में चालान पेश किया। आरोपित नोटिस तामील होने के बावजूद उपस्थित नहीं हुआ। कोर्ट ने उसकी तरफ से पेश अग्रिम जमानत आवेदन खारिज करते हुए गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। 

व्यापमं के माध्यम से 2013 में आरक्षक भर्ती परीक्षा आयोजित हुई थी। परीक्षा के दौरान पुलिस ने वासुदेव पाठक नामक आरोपित को पकड़ा था। वह हरेंद्र सिंह पिता सुखराम निवासी ग्राम नगला, मथुरा यूपी के नाम से परीक्षा दे रहा था। परीक्षा फॉर्म पर नाम और फोटो हरेंद्र का ही था। पुलिस ने वासुदेव को तो आरोपित बना लिया लेकिन हरेंद्र के खिलाफ कार्रवाई नहीं की। बाद में प्रकरण सीबीआई को सौंप दिया गया। उसने हरेन्द्र को भी आरोपी बनाया।

उसके खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया। मंगलवार को व्यापमं मामलों की विशेष न्यायाधीश की कोर्ट में आरोपित हरेंद्र के खिलाफ सीबीआई की तरफ से एडवोकेट रंजन शर्मा ने चालान पेश किया। कोर्ट ने उसका गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया। उधर आरोपित हरेन्द्र की ओर से विशेष न्यायालय में पेश अग्रिम जमानत का आवेदन भी खारिज हो गया।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter