Business

header ads

JAYS: बेरोजगार युवाओं द्वारा मुख्यमंत्री के नाम INDORE आयुक्त को सोंपा ज्ञापन

इंदौर/ राजेंद्र चौहान बाघ। आज इंदौर में आदिवासी युवाओं के संगठन जयस द्वारा प्रदेश स्तरीय बेरोजगार युवा महापंचायत का आयोजन किया गया जिसमे मुख्य विषय बैकलॉग पदो पर भर्ती की मांग की गय। कार्यक्रम इंदौर स्थित गाँधी हॉल में रखा गया। जिसमे मप्र के अन्य समस्त 50 जिलों व सभी ब्लॉक स्तर पर माननीय मुख्यमंत्री जी के नाम ज्ञापन दिया गया। संघटन के अरविन्द मुज़ाल्दा के द्वारा बताया गया के बेकलाग की 1 लाख से अधिक पद रिक्त हे पिछले लगभग 15 सालों में बैकलॉग का एक भी पद नहीं भरा गया है तथा न ही बेरोजगार छात्रों के हिसाब से अन्य भर्तियां निकली जा रही हे। 

मुझाल्दा ने व्यापम पर आरोप लगाते हुए कहा आज भी व्यापम परीक्षाओं में बड़े स्तर पर गड़बड़ी और घोटाले हो रहे हैं। जयस के राष्ट्रीय संरक्षक डॉ हिरालाल अलावा ने कहा हे अगर मध्यप्रदेश सरकार शीघ्रतिशीघ्र 15 दिनों बेरोजगारों के लिए रोजगार के साधन, नई वैकेंसी, बैकलॉग पद उपलब्ध नहीं करवाती है तो हम खुलकर शिवराज सरकार का विरोध करेंगे और मध्यप्रदेश में स्टूडेंट यूनियन की ताकत दिखा देंगे।


युवाओ ने 1लाख से अधिक बैकलॉग पदों पर शीघ्र भर्ती, MPPSC में जातिगत इन्टरव्यू, प्रदेश में स्थानीय परीक्षाओं में अन्य राज्यों के छात्रों लिए आरक्षित कोटे में कमी, ANM GNM आंगनवाड़ी  कार्यकर्ता, महिला सुपरवाइजर के पदो की भर्ती, संविदा शाला शिक्षक भर्ती परीक्षा के 80 हजार पदों का विज्ञापन शीघ्र जारी करने, Mppsc द्वारा सहायक प्राध्यापक भर्ती परीक्षा मे ST,SC के अलग-अलग विभागों के विलुप्त पदो को दोबारा शामिल किये जाने, कॉलेज में एडमिशन और परीक्षा मनमानी फीस को रोककर एक निश्चित राशि तय की जाए, कोचिंग सेंटर द्वारा ली जाने वाली मनमानी फीस पर  प्रतिबंध हो और एक निश्चित फीस की जाने, दूसरे राज्यों की तरह मध्यप्रदेश में भी बेरोजगार युवाओं को एक निश्चित लगभग ₹1500/- बेरोजगार भत्ता, विश्वविद्यालयों में समय पर परीक्षा आयोजित कर परीक्षा परिणाम देने की व्यवस्था की जाने, पिछले लगभग 15 सालों से रिक्त खेल विभाग के नियमित पदों को तत्काल भरा जाए, पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा में अनुसूचित जाति जनजाति की लड़कियों के लिए शारीरिक मापदंड तथा ऊंचाई में छूट की मांग की गय।

पांचवी अनुसूचित जिलों में मेडिकल, इंजीनियरिंग, एग्रीकल्चर, लॉ, मैनेजमेंट आदि कॉलेज खोले जाने और वर्तमान में छात्रों-छात्राओं के अनुपात में अनुसूचित जाति जनजाति व पिछड़ा वर्ग के पिछले 50 सालों से 50 सीटर हॉस्टल्स इसलिए 500 से अधिक नवीन होटल्स का निर्माण सभी महाविद्यालय और प्री मैट्रिक, मैट्रिक, पोस्ट मैट्रिक में किये जाने की मांग भी रखी गय हे।।


कार्यक्रम में जयस राष्ट्रीय संरक्षक डॉ हिरालाल आलवा, बिरसा ब्रिगेट प्रदेश अध्यक्ष अरविन्द मुझाल्दा, इंदौर जयस अध्यक्ष रविराज बघेल, बुधनी ASYF अध्यक्ष विमलेश आरबी, व्यापम मेडिकल फर्जीवाडा उजागर करने वाले RTI कार्यकर्त्ता डॉ आनंद राय, NSUI प्रदेश अध्यक्ष जावेद खान, NSUI प्रदेश महासचिव कुंदन एसके, अनिलसिंह अलावा, राजेम्द्रसिंह चौहान, दुष्यंत रावत, सुरेन्द्र बर्मन, बलवंत धार्वे, सुरेश तोमर, सुनील भावेल, राहुल बामिया, प्रेम पटेल, कर्नल, राजू निगवाल, मनीष वर्मा, अश्विन सोलंकी, गेंदालाल रंदा, रितिक, अनिल मौर्य, पवन एसके व् धार, झाबुआ, अलीराजपुर, बडवानी, खरगोन से बड़ी संख्या में बेरोजगार युवा मोजूद थे जिनके नेतृत्व में गाँधी हाल से इंदौर आयुक्त कार्यलय पहुच कर कमिश्नर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिया। कार्यक्रम का आयोजन बेरोजगार युवा संघर्ष समिति एवं जय आदिवासी युवा शक्ति जयस मप्र के द्वारा किया गया।