व्यापारी भाइयों की चिंता

कैरोना महामारी के चलते सरकार सभी माल , सभी दुकानें, सभी व्यापारिक संस्थान लगभग एक महीना बंद करने को बोल रही है और बंद भी हो रहे हैं। बचाव के लिए अच्छा कदम है पर एक दूसरा पहलू भी है जिस पर न हमनें विचार किया न ही सरकार ने

अब सवाल
1) व्यापारी दुकान का किराया कहाँ से निकालेगा
2) व्यापारी बैंक को देने वाली किश्तें कहाँ से निकालेगा
3) व्यापारी कर्मचारियों की तनख़्वाह कैसे निकालेगा
4) व्यापारी का व्यापारिक लेन देन लगभग बंद हो चुका है वह ऐसे में पिछली पेमेंट और अगला तैयार किया माल कहाँ निकालेगा
4) कुछ व्यापारियों का कच्चा माल लगभग एक महीने में ख़राब हो चुका होगा इसकी भरपाई कैसे करेगा
5) स्कूलों में बच्चों की फीसें, ड्रेस, किताबें सब खर्च अप्रैल में हैं व्यापारी कहाँ से निकालेगा
6) अगर किसी व्यापारी का कार लोन है तो किश्त कहाँ से देगा
7) किसी व्यापारी की घर की किश्त है तो कहाँ से देगा
8)व्यापारी बिजली का बिल कहाँ से भरेगा
9) व्यापारी GST की रिटर्न कहाँ से भरेगा

क्या सरकार को नही चाहिए कि ऐसा इंतज़ाम कर दें कि अप्रैल में होने वाले खर्च और बैंक की किश्तें और सभी लेन देन इत्यादि अप्रैल में न लिए जांए और एक महीना आगे कर दी जाएँ जिस से व्यापारी को कुछ राहत मिले
सरकार द्वारा लिए जाने वाले टैक्स इत्यादि भी एक महीना क्यूं न माफ़ किए जाएँ 

आपसे निवेदन है कि इस संदेश को ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करके सरकार के कानों तक पहुचांने में मदद करें ताकि व्यापारी भी इस महामारी से अच्छे से बिना नुक़सान लड़ सके


जनहित में जारी जयहिंद
आशीष माहेश्वरी
हैदराबाद,

Post a Comment

0 Comments