MP NEWS PANNA :दवंगों एवं पुलिस के कहर से पटना का दलित परिवार परेशान ,जब किसी ने नहीं सुना ,SDM नें पुलिस को जारी किया फरमान !.

संदीप विश्वकर्मा / पन्ना : बीहड़ एवं तराई अन्चलों में आतंक के र्प्याय बने पूर्व दस्सुओं का आतंक भले थम गया हो ! मगर उसके पूर्व की कहानियां आज भी अपना अंदाजे बयां करतीं हैं कि जब समाज एवं सरकार सहित प्रशासनिक जाति बादियों का आतंक कहर बनकर बरपता है ,उसे कहीं न्याय नहीं मिलता तो वह बगावत पर उतर आता है ? बस इसी कहानी को पुनः जीवन्त करते हुए गुनौर पुलिस की कार्यप्रणाली फिर सवालों के घेरे में हैं । क्योंकि पिछले साल इसी माह किसानों के साथ लूट पाट करनें पर दो पुलिस कर्मियों को दंड दिया गया था तो अमानगंज में पुलिस कर्मियों को बंधक बनाकर डायल 100 पर अपराध कारित किया गया था । 

बस उसी की बरसी मनाते हुए डायल हंड्रेड के पुलिस कर्मियों नें फरियादी महिला की जब दवंग अस्मत से खिलवाड कर रहे थे तों उसके बचाव में आये ननद,देवर,पति एवं ससुर नें बीच बचाव किया , फिर दवंग नें ससुर देवर को जमकर धुना । जब फरियादी नें पुलिस की मदद हेतु 100 डायल किया तो देर से ऐफ0आर0बी0 वाहन पहुंचा एवं फरियादी पति देवर एवं ससुर को ही उठा लाये जहां पर दवंग पहले से ही थानें में बैठा था । पुलिस नें पहले कपडे उतरवाकर जमकर धुनाई किया बाद में दूसरे दिन फरियादी के पति एवं ससुर को विभिन्न धाराओं में अपराध दर्ज कर चालान कर दिया । मगर दवंग आरोपी के नाम एक भी केश दर्ज न किया गया ,उल्टे फरियादी को ही आज भी धौंस मिल रही थी जिस पर उसनें रोते हुए सारी ग्रहस्थी का सामान लेकर गांव छोडनें हेतु एस0डी0एम0 को ज्ञापन सोंपा ? जिसपर ततकाल एसडीएम नें अपनें कार्यालयीन पत्र क्रमांक 517 दिनांक 24.04.2019 को लिखित पत्र थाना प्रभारी को जारी कर न्याय किए जानें का फरमान जारी किया है । 

कहा ! 2 दिवस के अन्दर बिना स्मरण पत्र की प्रतीक्षा के करो कार्यवाही 
मामले में संज्ञासन लेते हुए नवागन्तुक अनुविभागीय दण्डाधिकारी भूपेन्द्र रावत नें तुरन्त संज्ञान लेते हुए । एवं अनुसूचित जाति की महिला पूजा चौधरी की दुख भरी दास्तान पर विचारण करते हुए उसे ढाढस बंधाई कि अपनें परिवार सहित घर जाओ ,गांव छोडनें की जरूरत नहीं आपको न्याय मिलेगा ! कोई दिक्कत आये तो मुझे फोन करना । जिस पर पूजा रो पडी और उसनें अपनें दर्द पर किसी न्याय प्रिय अधिकारी के मरहम रूपी शब्दो से राहत महसूस करते हुए घर चली गयी थी । जिसपर तुरन्त दण्डाधिकारी नें अपनें कार्यालयीन पत्र के माध्यम से थाना प्रभारी को एक पत्र जारी किया है । एवं आवेदिका श्रीमती पूजा चौधरी पति अषोक कुमार चौधरी निवासी पटना कलॉं थाना गुनौर जिला पन्ना को सूचित किया है ।

एक संक्षिप्त नजर मामले पर -
दिनांक 21.02.2019 की सुबह 06 बजे ग्राम पटनाकलॉं निवासी श्रीमती पूजा चौधरी अपनें घर में काम कर रही थी तभी गांव का रावेन्द्र सिंह पिता रन्जोर सिंह ठाकुर निवासी पटनाकलॉं उम्र 30 वर्ष जाति सूचक शब्द कहते हुए घर के अन्दर चला आया जिस पर पूजा नें विरोध किया । पूजा के विरोध करनें पर उसकी गर्दन पकड लिया ? तो बारी में नित्य क्रिया के लिए गया पूजा का पति अशोक आ गया,ससुर सुदामा बीच बचाव करनें लगा ?पुलिस सहायता हेतु 100 लगाया तो पुलिस दोनों को उठालाई ंजमकर पिटाई किया ?एवं चालान कर दिया । जबकि आरोपी पर किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं किया ? जिससे जनता में रोष है ।  अस्तु जनता एवं क्षेत्र में पुलिस के इस रवैए से खासी नाराजगी है,कि अगर इस तरह से पुलिस गुनौर का थाना चलाएगी ?तो अपराध दवंगों के सर चढकर बोलेगा एवं विरोध लाजमी है ।

Related Posts

Subscribe Our Newsletter