Business

header ads

RSS पर आरोप लगाने की बजाए प्रदेश में अपराध पर अंकुुुश लगाायें गोविंद सिंह जी : मुदगल | POLITICAL

भोपाल। मप्र की जनता ने काफी अर्से बाद कांग्रेस पर भरोसा जताया और कांग्रेस की सरकार मध्यप्रदेश में बनाई ,परन्तु इनके बेलगाम नेताओं की गुटबाजी तथा खुद को श्रेष्ठ सिद्ध करने की मानसिकता अभी तक नही बदली,एक तरफ तो प्रदेश में अपराध बढ़ रहे हैं, कानून व्यवस्था की स्थिति खराब हो रही है। लेकिन फिर भी इनका ध्यान व्यवस्थाएं बनाने नही बल्कि राष्ट्रवादियों के विचार पोषक संगठनों की तरफ अनर्गल बयानबाजी कर जनता गुमराह करने तक ही सीमित है, वचनपत्र पूरा न करने की मंशा से लगता है कि हर मोर्चे में विफल सरकार है। ऐसे में अपनी इन असफलताओं को छुपाने के लिए कांग्रेस और उसके नेता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी पर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। यह बात शनिवार को भारत तिब्बत सहयोग मंच के युवा विभाग के मध्यभारत प्रांत अध्यक्ष श्री अर्पित मुदगल ने प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह के बयान पर टिप्पणी करते हुए कही।

प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी पर बम बनाने की ट्रेनिंग देने का आरोप लगाया था। उनके इस बयान को निंदनीय और वास्तविकता से परे बताते हुए BTSM के प्रान्त अध्यक्ष श्री मुदगल ने कहा है कि कांग्रेस के सत्ता में आते ही प्रदेश में अपराध बढ़ने लगे हैं। सरे राह लोगों की हत्याएं की जा रही हैं। कांग्रेस सरकार न तो अपराधों पर अंकुश लगा पा रही है और ना ही कानून-व्यवस्था की स्थिति में सुधार ला पा रही है। 

ऐसे में अपनी इस असफलता को ढांकने के लिए कांग्रेस नेता और सरकार के मंत्री राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जैसे राष्ट्रवादी संगठन पर आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि बेहतर होगा यदि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाने वाले मंत्री और नेता प्रदेश से अराजकता को समाप्त करने और कानून व्यवस्था सुधारने के प्रयास करें। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कैसा संगठन है, यह बात पं. जवाहरलाल नेहरू और स्व. श्रीमती इंदिरा गांधी भलीभांति जानते थे। अगर मंत्री गोविन्द सिंह भी जानना चाहते हैं कि आखिर संघ क्या है ? तो उन्हें भी संघ की शाखा में आकर खेल खेल में शारीरिक और मानसिक वृद्धि करने का सुअवसर प्राप्त करना चाहिए अन्यथा इस प्रकार के अनर्गल बयानबाजी कर राष्ट्रवादियों के संगठन पर उंगली उठाना हम कतई बर्दाश्त नही करेंगे।