Business

header ads

शिवपुरी के रातौर में पिटाई से आहत युवक ने आत्महत्या कर ली / Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के सिटी कोतवाली थाने के ग्राम रातौर से आ रही है जहां आपस में शराब पी रहे दो लोगों के बीच मामला इतना बढ़ गया कि नौबत मारपीट तक आ गई। जहां आरोपी ने अपने सालों को बुलाकर मृतक की जमकर मारपीट की और धमकी दी कि अगर मारपीट की शिकायत कहीं की तो जान से मार देंगे। दबाव में आकर मृतक ने घर में फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली। जहां पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार मृतक बलराम पुत्र स्व. सुखलाल धाकड़ निवासी रातौर और दीपक धाकड़ निवासी रोहानी दोनों शाम करीब 6 बजे ढाबे पर साथ बैठकर शराब पी रहे थे, शराब पीते समय दोनों का किसी बात को लेकर विवाद हो गया और दोनों विवाद के बाद वहां से चले गए। बता दें कि दीपक धाकड़ की रातौर में ससुराल है,जिसके चलते वह अपनी ससुराल वालों से मिलने आया हुआ था।

दीपक ने विवाद की सूचना अपने साले आकाश पुत्र बंटी धाकड़ उम्र 15 और गोलू पुत्र श्रीनिवास धाकड़ उम्र 20 दोनों निवासी रातौर को दी, जहां दीपक, आकाश और गोलू ने घर जा रहे मृतक बलराम का रास्ता में रोक कर उसके साथ मारपीट कर दी। जिसके बाद तीनों अपने घर चले गए जहां उन्होंने इस घटनाक्रम की जानकारी दीपक ने अपनी ससुराल में अपने ससुर श्रीनिवास धाकड को दी।  

इसके बाद दीपक और साले मिलकर बलराम धाकड के घर पहुंच गए और उसकी लाठी-डंडों से पिटाई कर दी, जहां चारों आरोपियों घर में मौजूद ममता पत्नी बलराम धाकड़ उम्र 24, मां बसंती पत्नी स्व. सुकलाल धाकड़ उम्र 60, दो बच्चे हर्षित उम्र 6 और शुभम उम्र 8 समेत पूरे परिवार के साथ मारपीट की।

जिसके चलते घटना की सूचना मृतक बलराम के जीजा जी रामपाल धाकड़ को मिली चूंकि रामपाल मृतक बलराम के घर के पास ही रहते है तो वह तुरंत घटनास्थल पर पहुंचे और चारों आरोपियों को समझा-बुझाकर घटनास्थल से वापस उनके घर भेज दिया।

वही आरोपी बलराम को धमकी देकर गए की अगर मारपीट की शिकायत उसने पुलिस थाने या किसी अन्य जगह पर की तो वह उसे जान से मार देंगे। बलराम मानसिक रूप से प्रेशर में आ गया और वह अपने घर गया ओर कमरे में जाकर फांसी के फंदे पर झूल गया। परिजनों ने देखा कि बलराम कही दिख नही रहा। उन्होने बलराम को उसके कमरे में जाकर देखा तो वह झांसी के फंदे पर झूल रहा था।

यह घटना कल देर शाम की बताई जा रही हैं। घटना के बाद बलराम के परिजन उसे जिला चिकित्यालय लेकर आए जहां डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजनो को जिला चिकित्सालय के डॉक्टरो पर विश्वास नही हुआ तो वह एक प्राईवेट हॉस्पिटल ले गए वहां पर भी डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया। 


from Shivpuri Samachar, Shivpuri News, Shivpuri News Today, shivpuri Video https://ift.tt/2Bq731G