भमेड़ीदेव ग्राम पंचायत को मिला मध्यप्रदेश का टूरिज्म अवार्ड 2018

सिवनी-मालवा। भोपाल में पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में होशंगाबाद जिले की सिवनी मालवा जनपद पंचायत के भमेड़ी देव ग्राम पंचायत को टूरिज्म अवार्ड से सम्मानित किया गया। जिसे लेने के लिए जनपद पंचायत सीईओ और ग्राम पंचायत की सरपंच पहुंची थी। दोनों महिलाओं द्वारा अवार्ड लेकर इसे क्षेत्र और आमजनता के लिए बताया। भमेड़ी देव ग्राम पंचायत को यह अवार्ड बेस्ट सिवी मेनेंटमेंट सिटी व ग्राम पंचायत केटेगरी के अंतर्गत मिला है। सिवनी मालवा जनपद पंचायत क्षेत्र में आने वाला भीलटदेव इको टूरिज्म केंद्र भी भमेड़ीदेव ग्राम पंचायत के क्षेत्र में आता है। जिससे पंचायत को अवार्ड मिलने में काफी लाभ मिला है। हालांकि महिलाओं द्वारा अवार्ड लेकर क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण की एक नई परिभाषा गढ़ी है। टूरिज्म अवार्ड मिलने से यहां क्षेत्र में पर्यटन विभाग की नजर में यह क्षेत्र है, जिससे यहां पर्यटन की संभावनाएं बढ़ सकती है।

महिलाओं ने लिया सम्मान

पर्यटन विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सिवनी मालवा जनपद पंचायत सीईओ रीना चौहान और भमेड़ी देव सरपंच गंगासागर बाई  ने नर्मदा घाटी विकास विभाग व पर्यटन विभाग मंत्री सुरेंद्रसिंह बघेल के द्वारा मध्य प्रदेश स्टेट टूरिज्म अवार्ड -2018 (बेस्ट सिवी मेनेजमेंट सिटी, ग्राम पंचायत ) दिया गया। जनपद पंचायत सीईओ रीना चौहान ने बताया कि भमेड़ीदेव पंचायत को अवार्ड मिलना पूरे जिले सहित सिवनी मालवा जनपद पंचायत क्षेत्र के लिए गर्व की बात है। ग्राम पंचायत ने पूरे प्रदेश में सिवनी मालवा जनपद पंचायत का नाम रोशन किया है। वही भमेड़ी देव सरपंच श्रीमति गंगासागर बाई पटेल का कहना है कि अवार्ड लेकर बहुत खुशी हो रही है। यह अवार्ड क्षेत्र के विकास और क्षेत्र की प्रदेश स्तर पर पहचान को और मजबूत करेगा। इसके लिए सभी लोगों का सहयोग मिला है जिससे अवार्ड मिल पाया।

ईको टूरिज्म केंद्र का फायदा

ईको टूरिज्म केंद्र भीलटदेव भमेड़ी देव पंचायत के क्षेत्र के अंतर्गत ही आता है। हरदा होशंगाबाद मुख्य मार्ग पर बने ईको टूरिज्म केंद्र को देखने और घूमने के लिए बहुत दूर दूर से लोग परिवार के साथ आते है। साथ ही आसपास के जिले से स्कूली ग्रुप भी पिकनिक मनाने के लिए भीलटदेव आता है। गौरतलब है कि भीलटदेव में ईको टूरिज्म केंद्र तत्कालीन भाजपाई मंत्री सरताजसिंह के प्रयासों से बना था। जिसमें जनपद पंचायत की जगह और जनभागीदारी से एक समिति बनाकर यहां पर विकास कार्य किए गए थे। जिसके अंतर्गत यहां स्टाफ डेम, वोटिंग, मंगल भवन, रेस्ट हाउस, गार्डन, रेस्टोरेंट सहित वेटिंग रूम भी बनाए गए है। 

Related Posts

Subscribe Our Newsletter